जब हम बच्चे थे

जब हम बच्चे थे, हर बात पे मुस्कुराते थे, चिड़िया उड़ के खेल खेल में हम भी उड़ जाते थे। दुनिया के रिवाज़ों से परे , हर किसी को दोस्त बनाते। जब हम बच्चे थे मम्मी की उँगली छुरा कर, हर बार उनसे आगे भगा करते थे। बिना किसी बंदिश के हर किसी से मिला … Continue reading जब हम बच्चे थे

Advertisements

Advice and argument with Old me(at 60) #1

Present PM22 At 60s PM60 PM60: life passed in thinking and thinking a lot Pooja PM22: Who told you to think much, why you never followed your heart and shown some       courage PM60: Life is not only about to think yourself Pooja, you can't be like kid and be selfish, PM22: Oh I … Continue reading Advice and argument with Old me(at 60) #1